Ranji Trophy – सरफराज खान की जिंदगी में 5 साल में पहली बार आई खुशी

धर्मशाला। मुंबई के लिए पहली बार रणजी सीजन खेल रहे सरफराज खान के 5 साल के क्रिकेट करियर में पहली बार खुशी आई है। 7 दिन से भी कम समय के भीतर उन्होंने पहले उत्तर प्रदेश के खिलाफ तिहरा शतक (301) लगाया और अगले ही मैच में दोहरा शतक (226 रन) लगा डाला। 31 साल के बाद यह पहला अवसर है, जब‍ किसी क्रिकेटर ने यह कामयाबी अपने नाम की है।

आईपीएल के सीजन में 22 के सरफराज को जब विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने जब उन्हें टीम से निकाला तो वे काफी गमजदा थे लेकिन पिछले साल उन्हें किंग्स इलेवन पंजाब ने मौका दिया, जहां दिग्गज क्रिकेटरों से उन्हें काफी सीखने का मौका मिला।

सरफराज ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ नाबाद 46 रन बनाए तो चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के खिलाफ उन्होंने 67 रन की पारी खेली थी।

सरफराज का करियर भी उतार चढ़ाव भरा रहा। जब उन्हें मुंबई टीम से मौका नहीं मिला तो वे उत्तर प्रदेश चले गए लेकिन एक साल के भीतर ही उन्हें समझ आ गया कि यहां से वे अपने क्रिकेट करियर को परवान नहीं चढ़ा सकते, लिहाजा वापस मुंबई लौट आए।

अब जबकि उन्होंने लगातार 2 मैचों में 500 से ज्यादा रन बना डाले हैं, लिहाजा उनके आत्मविश्वास में जबरदस्त इजाफा हुआ है। उम्मीद की जानी चाहिए कि रणजी के अगले मैचों में (कुल 6 मैच बचे हैं) सरफराज के बल्ले से रनों का झरना बहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Top
ब्रेकिंग
सामने आया मेडिकल कॉलेज आज़मगढ़ के प्रिंसिपल का असली चेहरामज़दूरों की आठ घंटे काम की मांग ने पूंजीवाद को हिला दिया था…जनहित इंडिया ट्रस्ट लेगा अन्य राज्यों से पैदल पलायन किये गरीब मज़दूरों की सुधिआज़मगढ़ में केवाईसी जमा करने के लिए उमड़ी हजारों की भीड़मण्डलायुक्त ने अन्य राज्यों व जनपदों से आने वाले छात्रों एवं प्रवासी मजदूरों को उपलब्ध सुविधाओं का लिया जायजाकैंसर पीड़ित सदाबहार अभिनेता ऋषि कपूर भी नहीं रहेंदुनिया को अलविदा कह गए ‘इरफान खान’प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने सरकार के आदेशों को कड़ाई से लागू करने का लिया निर्णयढैचा की बोवाई शुरू करें किसानयूपी के प्रवासी अपनी समस्या के लिए अपने राज्यों के प्रभारी अधिकारियों से कर सकते हैं सम्पर्क