मण्डलायुक्त ने अन्य राज्यों व जनपदों से आने वाले छात्रों एवं प्रवासी मजदूरों को उपलब्ध सुविधाओं का लिया जायजा

प्रयागराज से बसों के माध्यम से लाये गये जनपद के छात्र एवं छात्राओं तथा अन्य राज्यों/जनपदों से आने वाले प्रवासी मजदूरों स्थानीय स्तर पर की गयी व्यवस्थाओं एवं सुविधाओं का जायजा लेने हेतु मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने वृहस्पतिवार को पूर्वान्ह 10.00 बजे रोडवेज परिसर का जायजा लिया। इस दौरान अवगत कराया गया कि प्रयागराज से अबतक लगभग 1800 छात्र छात्रायें जनपद में आयें हैं, जिनका मेडिकल चेकअप कराने के उपरान्त उन्हें होम क्वरेन्टाइन किया गया है। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने रोडवेज कार्यालय के प्रथम तल पर बड़े हाल जहाॅं बाहर से आने वालों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाता है, को भी देखा। वहाॅं मौके पर स्वास्थ्य विभाग की दो टीमें सक्रिय पाई गयी। मण्डलायुक्त ने मेडिकल टीमों से स्वास्थ्य परीक्षण की पूरी जानकारी ली। इस मौके पर अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. एनएल यादव ने बताया कि प्रयागराज से आये बच्चों की थर्मल स्कैनिंग के साथ अन्य माध्यम से स्वास्थ्य परीक्षण किया। कोई मामला संदिग्ध नहीं पाया गया तथा सभी को होम क्वरेन्टाइन कियाग या है। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रयागराज एवं मध्य प्रदेश से और लोग भी आ रहे हैं। सभी के स्वास्थ्य परीक्षण, भोजन, ठहरने आदि की पर्याप्त व्यवस्था की गयी है। यह भी बताया गया कि जनपद में 31 अस्थायी स्क्रीनिंग कैम्प/आश्रय स्थल स्थापित किये गये हैं तथा जिसकी कुल क्षमता 3200 की है। मण्डलायुक्त ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया कि अन्य जनपदों/प्रदेशों से आने वाले सभी लोगों सभी लोगों के मेडिकल चेकअप के साथ ही उनके भोजन सहित अन्य सुविधाओं की निरन्तर मानीटरिंग की जाये ताकि बाद में किसी प्रकार की दिक्कत न होने पाये।
मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने इसी क्रम में मुहल्ला हरबंशपुर स्थित निरंकारी भवन में बने कम्यूनिटी किचन का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय किचन की साफ सफाई सन्तोषजनक पाई गयी। उन्होंने उक्त कम्यूनिटी किचन के माध्यम से भोजन आपूर्ति का पूरा विवरण उपलब्ध कराने हेतु उपजिलाधिकारी सदर को निर्देशित किया। अन्य कम्यूनिटी किचन के सम्बन्ध में अवगत कराया गया कि जनपद में कुल 13 कम्यूनिटी किचन स्थापित हैं तथा सभी सरकारी हैं, जिनसे प्रतिदिन 1441 नागरिकों को लाभान्वित किया जाता है। इसी क्रम में अपर आयुक्त प्रशासन अनिल कुमार मिश्र ने अवगत कराया कि जनपद में मऊ में 4 सरकारी एवं 1 स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालि किचन हैं जिनसे प्रतिदिन 1078 लोगों को तथा बलिया में 3 सरकारी एवं 15 स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालित हैं जिनसे प्रतिदिन 1840 नागरिकों को लाभान्वित किया जाता है। मण्डलायुक्त ने इस मौके पर पुलिस अधीक्षक डा. त्रिवेणी सिंह को निर्देश दिया कि लाकडाउन का कड़ाई से अनुपालन कराने में कोई लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने मुबारकपुर में चिन्हित हाटस्पाॅट पर पूरी सतर्कता बरतने का भी निर्देश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Top
ब्रेकिंग
सामने आया मेडिकल कॉलेज आज़मगढ़ के प्रिंसिपल का असली चेहरामज़दूरों की आठ घंटे काम की मांग ने पूंजीवाद को हिला दिया था…जनहित इंडिया ट्रस्ट लेगा अन्य राज्यों से पैदल पलायन किये गरीब मज़दूरों की सुधिआज़मगढ़ में केवाईसी जमा करने के लिए उमड़ी हजारों की भीड़मण्डलायुक्त ने अन्य राज्यों व जनपदों से आने वाले छात्रों एवं प्रवासी मजदूरों को उपलब्ध सुविधाओं का लिया जायजाकैंसर पीड़ित सदाबहार अभिनेता ऋषि कपूर भी नहीं रहेंदुनिया को अलविदा कह गए ‘इरफान खान’प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने सरकार के आदेशों को कड़ाई से लागू करने का लिया निर्णयढैचा की बोवाई शुरू करें किसानयूपी के प्रवासी अपनी समस्या के लिए अपने राज्यों के प्रभारी अधिकारियों से कर सकते हैं सम्पर्क