‘मर्दों’ के मर्जी की उड़े धज्जी ‘अनारकली ऑफ आरा’

6 months ago Editor 0
– अमित कर्ण इक्कीसवीं सदी में आज भी बहू, बेटियां और बहन घरेलू हिंसा, बलात संभोग व एसिड एटैक के घने काले साये में जीने को मजबूर हैं। घर की चारदीवारी हो या स्कूल-कॉलेज व दफ्तर चहुंओर ‘मर्दों’ की बेकाबू लिप्सा और मनमर्जी औरतों के जिस्म को नोच खाने को आतुर रहती है। ऐसी फितरत Read More

अनचाही बेटियाँ

6 months ago Editor 0
भारत में लगातार घटते जा रहे इस बाल लिंगानुपात के कारण को गंभीरता देखने और समझने की जरुरत है. जाहिर है लिंगानुपात कम होने का कारण प्राकृतिक नहीं है और ना ही इसका सम्बन्ध संबंध अमीरी या गरीबी से है. यह एक मानव निर्मत समस्या है जो कमोबेश देश के सभी हिस्सों, जातियों, वर्गो और Read More

कैसे पटरी पर आयेगी बदहाल स्वास्थ्य सेवायें

6 months ago Editor 0
स्वास्थ्य सेवाओं का चुस्त-दुरुस्त और ईमानदार होना न केवल स्वास्थ्य की दृष्टि से, बल्कि सामाजिक दृष्टि से भी जरूरी है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि अभी तक ऐसा नहीं हो पाया है। देश के आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को पटरी पर लाने के लिए एक गंभीर पहल की जरूरत है… – रोहित Read More

पंजाब में कांग्रेस नहीं अमरिदंर जीते

6 months ago Editor 0
पंजाब की जीत असल में कैप्टन अमरिंदर सिंह की निजी जीत है। और जो लोग इस तथ्य को नहीं स्वीकारते, उनके लिए सवाल है कि क्या राहुल गांधी और उनकी कांग्रेस, कैप्टन के बिना पंजाब जीत पाती…? – निरंजन परिहार जो लोग मान रहे हैं कि पंजाब में कांग्रेस की जीत हुई है, वे सही Read More

आखिर हार गया गठबंधन

6 months ago Editor 0
– इन्द्रजीत सिंह उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव सपा ने अखिलेश यादव के नेतृत्व में चुनाव लड़ा. यूपी की सभी 403 सीटों के रुझानों में पार्टी 50 सीटों का आकंड़ा भी नहीं छू पाई है. वहीं केंद्र की सत्ता पर काबिज बीजेपी ने बहुमत के आंकड़े को 325 सीटें जीतकर पीछे छोड़ दिया. इस प्रकार Read More

बातचीत की असफल मेज पर विवाद सुलझने की उम्मीद क्यों?

6 months ago रवीश कुमार 0
सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने कहा कि बेहतर होगा कि दोनों पक्ष इस मुद्दे को मिल बैठकर सुलझाएं. ये मामला धर्म और आस्था से जुड़ा है. इसलिए दोनों पक्ष आपस में बैठकर बातचीत के जरिए हल निकालने की कोशिश करें. जरूरत पड़ी तो सुप्रीम कोर्ट के जज भी मध्यस्थता करने को तैयार हैं… – Read More

ईवीएम पर बवाल क्यों?

6 months ago Editor 0
असल में हारी हुई पार्टियां और उसके नेता अपनी जिम्मेदारी से बचने और अपने कार्यकर्ताओं का मनोबल बनाए रखने के लिए हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ रहे हैं। सपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बुरी तरह से हारने के बाद इनके नेताओं पर सवाल उठ रहे हैं, उनकी काबिलियत का आकलन किया जा Read More

मोदी. मोदी.. योगी…

6 months ago Editor 0
– प्रवीण गुगनानी उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ के मनोनयन के पश्चात यह स्पष्ट हो गया कि नरेंद्र मोदी व अमित शाह की टोली ने यह नियुक्ति कई संदेशों के स्पष्टतः प्राकट्य, प्रस्तुतीकरण व प्रसारण के लिए बड़ी ही दृढ़ता के साथ की है. बहुत से ऐसे तथ्य, मान्यताएं व राजनैतिक मिथक Read More

भगवाधारी की चुनौतियां?

6 months ago Editor 0
विश्व के सबसे चर्चित व्यक्तित्व बनने वाले योगी आदित्यनाथ ने अब अपने जीवन की सर्वाधिक बड़ी चुनौती स्वीकारते हुए अपने पूरे राजनैतिक जीवन को दांव पर लगा दिया है। अत्यन्त ही खराब कानून व्यवस्था, लुंजपुंज प्रशासन, भ्रष्टाचार और जातियों और संम्प्रदायों में बंटे सूबे के समाज को सुधारना और इनके साथ ही विकास के रथ Read More

तीर एक, निशाना तीन हिंदुत्व, सवर्ण और ओबीसी

6 months ago Editor 0
योगी आदित्यनाथ हिन्दुत्व का चेहरा है तो उनके एक उप-मुख्यमंत्री केशव मौर्या ओबीसी हैं जबकि दूसरे उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ब्राह्मण हैं. इस प्रकार बीजेपी ने एक तीर से तीन निशाना साधा है… – संतोष चौबे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी मदद करने के लिए पार्टी ने केशव प्रसाद मौर्य एवं दिनेश शर्मा Read More