वाह रे बाहुबली!

5 months ago Editor 0
बॉक्स ऑफिस इंडिया के मुताबिक बाहुबली 2 ने पहले दिन-हिंदी बाजार क्षेत्र में-35 करोड़ (इसमें मुंबई, नॉर्थ, सेंट्रल और ईस्टर्न इंडिया सब शामिल है), निजाम/आंध्र में-45 करोड़, तमिलनाडु में -14 करोड़, कर्नाटक में-10 करोड़, केरल में-4 करोड़ रूपये की कमाई की है। इस प्रकार बाहुबली 2 रिलीज के दिन ही 100 करोड़ रुपए कमाने वाली Read More

पूरी दुनिया के प्रेरणास्रोत हैं राहुल जी

5 months ago Editor 0
~ अखिलेश मिश्र ‘गुड्डू‘ राहुल जी के जयन्ती एवं जनहित इंडिया की वर्षगांठ के अवसर पर सायंकाल लगभग 7 बजे से विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों को विद्यालय के वार्षिकोत्सव के रूप में प्रस्तुत किया गया. जिससे विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने अपने नृत्य, संगीत एवं विविध हास्य व्यंग प्रहसनों द्वारा क्षेत्रीय ग्रामीण जनता को मंत्रमुग्ध किया. विशेष Read More

मातृ-भाषा के हिमायती थे राहुल सांकृत्यायन

5 months ago Editor 0
~ एम.एस. पाण्डेय महान यायावर एवं विश्वविख्यात विद्वान महापंडित राहुल सांकृत्यायन (पद्म विभूषण) की 124वीं जयन्ती और राष्ट्रीय मासिक ‘जनहित इंडिया’ के सफल प्रकाशन के 4 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर 9 अप्रैल को अपराह्न 1 बजे ‘राहुल जी के मातृभाषा सम्बन्धी विचार’ विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन महापंडित राहुल सांकृत्यायन बालिका उच्चतर Read More

प्रख्यात कथाकार और संपादक थे ‘मार्कण्डेय’

5 months ago Editor 0
मार्कण्डेय (2 मई, 1930-17 मार्च, 2010) हिन्दी के जाने-माने कहानीकार थे। वे ‘नई कहानी’ आंदोलन के प्रमुख हस्ताक्षर थे। उनका जन्म उत्तर प्रदेश में जौनपुर जिले के बराई गांव में हुआ था। इनकी कहानियाँ आज के गाँव के पृष्ठभूमि तथा समस्यायों के विश्लेषण की कहानियाँ हैं। इनकी भाषा में उत्तर प्रदेश के गाँवों की बोलियों Read More

‘अंकुर’ के निर्देशन में सूत्रधार की शानदार प्रस्तुति हंसा जाई अकेला और कहानी के लिए स्त्रर पात्र चाहिए

5 months ago Editor 0
~ राजेश्वरी ‘रोली’ आजमगढ़ में शारदा सिनेमा हाल में ‘मार्कण्डेय जी’ की कहानियों पर ‘सूत्रधार’, नाट्य प्रस्तुति का बेहतरीन आयोजन किया। परिकल्पना और निर्देशन कहानियों की नाट्य प्रस्तुति के लिए विख्यात रंग निर्देशक, देवेन्द्र राज अंकुर ने किया। उन्होंने ‘मार्कण्डेय जी’ की दो बहुचर्चित कहानी- ‘हंसा जाई अकेला’ तथा ‘कहानी के लिए स्त्री पात्र चाहिए’ Read More

धोनी को मिल गई संजीवनी

5 months ago Editor 0
~ शिवेन्द्र कुमार सिंह आज क्रिकेट की दुनिया में धोनी की जमकर चर्चा हो रही है. उन्होंने पुणे में 26 अप्रैल को जिस अंदाज में बल्लेबाजी की उसके बाद ये तारीफ स्वाभाविक भी है. इस तारीफ की एक बड़ी वजह ये भी है कि धोनी के फैंस को अब बोलने का मौका मिला है. सीजन Read More

अलविदा अमर. जिन्दगी तो बेवफा है एक दिन ….

5 months ago बी. के. पाण्डेय 0
भारतीय सिनेमा के सबसे करिश्माई और आकर्षक अभिनेताओं में शामिल रहे विनोद खन्ना के निधन पर उन्हें रजनीकांत, ऋषी कपूर, लता मंगेशकर, अक्षय कुमार और संजय दत्त जैसी हस्तियों ने श्रद्धांजलि दी। खन्ना का 27 अप्रैल सुबह 11ः20 बजे यहां सर एच एन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में निधन हो गया। वह ब्लैडर कैंसर से जूझ Read More

गाजीपुर में महंत की हत्या कर करोड़ों की मूर्ति चोरी

5 months ago Editor 0
~ इन्द्रजीत सिंह गाजीपुर जनपद के कासिमाबाद थानान्तर्गत इन्दौर ग्रामसभा में रामजानकी मन्दिर कुटी के महंत महेन्द्र गौतम दास उम्र लगभग 32 वर्ष की 23 अप्रैल 2017 की रात्रि में गला घोंटकर हत्या कर दी गयी तथा बदमाशों ने मन्दिर में स्थापित भगवान राम-जानकी और लक्ष्मण के अष्टधातु निर्मित मूर्तियाँ उठा ले गये। अन्तर्राष्ट्रीय बाजार Read More

सोशल मीडिया से सावधान!

5 months ago Editor 0
भारतवासियों को खासतौर पर बड़ी गंभीरता से सोशल मीडिया के विषय पर यह सोचने की जरूरत है कि हम इस माध्यम पर कितना विश्वास करें और कितना न करें? इस माध्यम में केवल दंगा-फसाद व अराजकता फैलाने की ही नहीं बल्कि इसमें गृहयु( छिड़वा देने तक की क्षमता है। इसलिए हमें सोशल मीडिया के ऐसे Read More

भयानक बिमारी है ‘अवसाद’

5 months ago Editor 0
वैश्विक स्तर पर करोड़ों की संख्या में युवा व प्रौढ़ स्त्री-पुरुष अवसाद की चपेट में हैं। इन्हें अपनी भावनाओं, संवेदनाओं को प्रकट करने का मौका नहीं मिलता। इस तरह के लोग भीड़ में होते हुए भी निपट अकेला महसूस करते हैं। घर-परिवार में होकर भी खुद को उदास और निराश पाते हैं। शिक्षा इस तरह Read More